जैकल माता मंदिर स्थापना

जैकल माता मंदिर स्थापना

भारत की संस्कृति एक प्राचीन संस्कृति है सनातन काल से ही भारत में मंदिरों को विशेष मान्यताएं दी जाती है भारत के प्रत्येक राज्य में अनेकों प्रकार के मंदिर पाये जाते हैं इनमें से प्रत्येक मंदिर का अपना-अपना विशेष महत्व है।

जैकल माता मंदिर भी एक उन्ही मंदिर में आता है|  जिनका अपना एक अलग महत्व है इस मंदिर के साथ कई पौराणिक कथाएं भी जुडी हुई है, जिनसे हमे इस मंदिर की विशेषताओं का पता चलता है | लोगो में ऐसा विश्वास है की जो भी इस मंदिर में कुछ विशेष प्रार्थना करता है उसकी प्रार्थना अवश्य पूरी होती है|

आराधना भावना का, स्पर्श करने का, प्रेम करने का एक तरीका है।

सोजत सिटी, राजस्थान में स्थित जो पौराणिक जैकल माता मंदिर था, किन्हीं कारणोंवश वह खंडित छती ग्रहस्त हो गया था, जिसका पता जब हमारे वेलनिक इंडिया के संस्थापक श्री सुखदेव गेहलोत जी को चला, जो की धार्मिक कार्यों में काफी रूचि रखते है, तब उन्होंने मंदिर का जीर्णोद्धार (मंदिर का पुनः निर्माण) एवं सौन्दर्यकरण करने का तय किया | जैकल माता मंदिर का जीर्णोद्धार का कार्य फरवरी २०२० से शुरू हुआ, जो की अब पूर्ण होने की कगार पर है |

जैकल-माता-मंदिर-निर्माण-कार्य